Saturday, December 31, 2011

नए का स्वागत करो...!!


मैं क्या हूँ...तेरी ज़िंदगी मैं
क्या मायने हैं,मेरे
क्यूँ,मिले हम -तुम
सोच रही हूँ,आज कई दिन से

मैं एक पुराना रिश्ता...
जो नींव बना नए रिश्ते की
मैं...खुश हूँ
कि मैं सेतु बन पायी
जिससे गुजर कर...
तुम पहुँच पाए नयी दुनिया तक
मैं, वो ख्वाब जो पूरा न होकर भी
सितारे छू लेने की, आगे बढ़ने की
हर ख्वाहिश बढ़ा देता है .

पुराने को विदा ...नए का स्वागत ....हैप्पी २०१२

37 comments:

  1. नव वर्ष की हार्दिक शुभ कामनाएँ।

    सादर

    ReplyDelete
  2. यही दस्तूर बन पड़ा है..
    बढ़िया प्रस्तुति...
    आपको सपरिवार नए साल की हार्दिक शुभकामनायें!

    ReplyDelete
  3. नववर्ष मंगलमय हो

    ReplyDelete
  4. थैंक्स...यशवंत!!

    ReplyDelete
  5. कविता...शुक्रिया !!सराहने हेतु भी और शुभकामनाओं के लिए भी.

    ReplyDelete
  6. अंजू...आपके एवं आपके परिवार को भी नव वर्ष की शुभकामनायें!!

    ReplyDelete
  7. मैं क्या हूँ...तेरी ज़िंदगी मैं
    क्या मायने हैं,मेरे
    क्यूँ,मिले हम -तुम
    सोच रही हूँ,आज कई दिन से....बेहतरीन अंदाज़..... सुन्दर
    अभिव्यक्ति.........नववर्ष की शुभकामनायें.....

    ReplyDelete
  8. सुन्दर अभिवयक्ति....नववर्ष की शुभकामनायें.....

    ReplyDelete
  9. ▬● अच्छा लगा आपकी पोस्ट को देखकर... साथ ही आपका ब्लॉग देखकर भी अच्छा लगा... काफी मेहनत है इसमें आपकी...
    नव वर्ष की पूर्व संध्या पर आपके लिए सपरिवार शुभकामनायें...

    समय निकालकर मेरे ब्लॉग्स की तरफ भी आयें तो मुझे बेहद खुशी होगी...
    [1] Gaane Anjaane | A Music Library (Bhoole Din, Bisri Yaaden..)
    [2] Meri Lekhani, Mere Vichar..
    .

    ReplyDelete
  10. बहुत सुंदर प्रस्तुती बेहतरीन पोस्ट ,.....
    नववर्ष 2012 की हार्दिक शुभकामनाए..

    --"नये साल की खुशी मनाएं"--

    ReplyDelete
  11. नव वर्ष की शुभ कामनाएँ।

    ReplyDelete
  12. नव वर्ष पर सार्थक रचना
    नववर्ष की आपको बहुत बहुत हार्दिक शुभकामनाएँ.

    शुभकामनओं के साथ
    संजय भास्कर

    ReplyDelete
  13. आपको नव वर्ष 2012 की हार्दिक शुभ कामनाएँ।
    ---------------------------------------------------------------
    कल 02/01/2012 को आपकी यह पोस्ट नयी पुरानी हलचल पर लिंक की जा रही हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .
    धन्यवाद!

    ReplyDelete
  14. मैं, वो ख्वाब जो पूरा न होकर भी
    सितारे छू लेने की, आगे बढ़ने की
    हर ख्वाहिश बढ़ा देता है .

    Bahut khoob...badhiya....

    ReplyDelete
  15. NAV VARSH BAHUT BAHUT MUBARAK.KHOOBSURAT RACHNA.

    ReplyDelete
  16. सुंदर अभिव्यक्ती
    नववर्ष कि बहूत बहूत शुभकामनाये

    ReplyDelete
  17. बहुत ही सुन्दर ....नववर्ष की शुभकामनाएं

    ReplyDelete
  18. थैंक्स...प्रियंका!!

    ReplyDelete
  19. सुषमा...शुक्रिया!!

    ReplyDelete
  20. जोगेन्द्र जी...मैं वक्त निकाल कर जल्द ही जल्द आपके ब्लोग्स पर आउंगी.शुक्रिया...मेरी रचना एवं ब्लॉग को पसंद करने के लिए !

    ReplyDelete
  21. धीरन्द्र जी ...आपकी शुभकामनाओं हेतु धन्यवाद!!

    ReplyDelete
  22. रश्मि जी..आपको भी..

    ReplyDelete
  23. महेंद्र जी... नववर्ष की आपको हार्दिक शुभकामनाएँ.

    ReplyDelete
  24. संजय जी...धन्यवाद....आपको भी नए वर्ष की शुभकामनायें!!

    ReplyDelete
  25. यशवंत...शुक्रिया!!

    ReplyDelete
  26. प्रकाश....सराहने के लिए तहे दिल से शुक्रिया!!

    ReplyDelete
  27. सुनीला ..नया साल आपके लिए भी ढेरों खुशियाँ लेकर आये!!

    ReplyDelete
  28. रीना...धन्यवाद!!रचना को पसंद करने के लिए ..नववर्ष मंगलमय हो!!

    ReplyDelete
  29. संजय जी ...आभार!! आपको भी नववर्ष की मंगल कामनाएं!!

    ReplyDelete
  30. बहुत सुंदर,आपकी रचना नई पुरानी हलचल में लिंक किये जाने के लिए बधाई,...
    नया साल आपके जीवन को प्रेम एवं विश्वास से महकाता रहे,

    --"नये साल की खुशी मनाएं"--

    ReplyDelete
  31. अब किसी नए का स्वागत करने के लिए कुछ नहीं बचा निधि !

    ReplyDelete
  32. धीरेन्द्र जी ..थैंक्स!!!

    ReplyDelete
  33. आनंद जी....कुछ ढूंढ लाइए...किसी कोने कुब्जे से.

    ReplyDelete

टिप्पणिओं के इंतज़ार में ..................

सुराग.....

मेरी राह के हमसफ़र ....

Followers