Wednesday, August 15, 2012

आज़ादी दिवस



एक पागल है ..
सारे शहर में घूम घूम के
हरसिंगार के झरे फूल और गिरी पत्तियां
इकट्ठी करता है .

सुना है...
वक्त का है मारा
फ़ौजी है पुराना
इन फूल पत्तियों में
उसे...



अपना तिरंगा नज़र आता है .
जिससे हर शख्स बेखबर नज़र आता है .
अपने देश की स्थिति दिखायी देती है .
बात-बात पे उसकी आँख भर आती है .

देश के लिए कुछ करने..देश को कुछ दे पाने का पागलपन हम पे भी हावी हो जाए .
आज़ादी दिवस आप सभी को मुबारक हो !!

22 comments:

  1. नयंक पटेलAugust 15, 2012 at 7:52 AM

    निधि जी , आप अपनी कलम से सेवा तो कर ही रही है .....कलम की ताकत बहोत बड़ी होती है
    जहाँ बंदें खुद जिंदगी से गुमनाम है .....वहां जिंदगीनामा उनके लिए प्रजवलित मशाल है जो एक common emblem है enlightenment and hope दोनों के लिए

    ReplyDelete
    Replies
    1. इज्ज़त अफजाई के लिए तहे दिल से शुक्रिया

      Delete
  2. क्या एक सही आदमी विकास की इस दौड़ में यूं ही पागल समझ लिया जाता रहेगा...
    या फिर कभी उदय होगा उस वैयक्तिक संवेदना का जो कुछ इस तरह का पागलपन लिए होगा...
    जिसमें समझ होगी दूसरे की भावनाओं को समझने और उसके साथ समस्वरता को देखने की...
    या फिर वह सही आदमी यूं ही अपनी भावनाओं को आंसूओं से सिंचता रहेगा...
    तड़पता रहेगा और प्रकृति में कहीं अपना अतीत प्रतीकों में तलाशता रहेगा...
    क्या वह सवेरा होगा?
    .
    एक बड़ा प्रश्न...और उत्तर दूर-दूर तक नज़र नहीं आता.

    ReplyDelete
    Replies
    1. इस प्रश्न का उत्तर हमें आसानी से न मिले तो उसे खोजना होगा .हाथ पे हाथ धर कर बैठने से कुछ न होगा...हर इंसान को पहल करनी होगी...अच्छे बदलाव के लिए .

      Delete

  3. स्वतन्त्रता दिवस की हार्दिक शुभ कामनाएँ!


    सादर

    ReplyDelete
    Replies
    1. तुम्हें भी अशेष शुभकामनायें...यशवंत.

      Delete
  4. मेरी टिप्पणी स्पैम में मिलेगी...

    ReplyDelete
  5. जो पागल न हुआ वह क्या आज़ादी लायेगा , वह तो गँवा देगा

    ReplyDelete
    Replies
    1. बहुत ज़रूरत है...ऐसे पागलों की जो देश पे सब लुटा देने का जज्बा रखते हैं

      Delete
  6. वे क़त्ल होकर कर गये देश को आजाद,
    अब कर्म आपका अपने देश को बचाइए!

    स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाए,,,,
    RECENT POST...: शहीदों की याद में,,

    ReplyDelete
    Replies
    1. आपको भी अशेष शुभकामनायें

      Delete
  7. स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाये..
    :-)

    ReplyDelete
    Replies
    1. हार्दिक शुभकामनायें!

      Delete
  8. बहुत सुंदर
    आजादी की वर्षगांठ पर ढेर सारी शुभकामनाएं

    ReplyDelete
    Replies
    1. आपको भी आज़ादी की सालगिरह पे ढेरों मुबारकबाद

      Delete
  9. बहुत खूबसूरत रचना………………स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं !

    ReplyDelete
    Replies
    1. शुक्रिया !!आपको भी ढेरों शुभकामनायें !

      Delete
  10. सुन्दर प्रस्तुति...
    रचना भी प्यारी, तिरंगा भी प्यारा.....
    स्वतन्त्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ!...!!!!!

    ReplyDelete
  11. सच है हरसिंगार के फूल ऐसे ही होते हैं ...
    आपको १५ अगस्त की बधाई और शुभकामनायें ...

    ReplyDelete
    Replies
    1. आपको भी .शुक्रिया,पसंद करने के लिए

      Delete

टिप्पणिओं के इंतज़ार में ..................

सुराग.....

मेरी राह के हमसफ़र ....

Followers